देश में दलितों और मुस्लिमों की हो रही हत्या को लेकर मानसून सत्र के तीसरे दिन भी विपक्ष ने कड़े रुख अपनाए रखे. कांग्रेस इन हत्याओं के लिए राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) को जिम्मेदार ठहराया है.

राज्यसभा में कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद ने कहा, जितनी भी लिंचिंग होती है उनमें रूलिंग पार्टी या आरएसएस का हाथ होता है. उन्होंने कहा, भीड़ आए दिन किसी ना किसी मुद्दे पर किसी शख्स को पीट-पीट कर मार डालती है. झारखंड तो मॉब लिंचिंग का अखाड़ा बना हुआ है वहां आए दिन किसी ना किसी की पीट-पीट हत्या की जा रही है.’

और पढ़े -   देश के मुसलमान समावेशी विकास में ऐतिहासिक साझेदार बने: नकवी

उन्होंने दलित-मुस्लिमों की अत्याचार की तुलना ब्रिटिश काल से करते हुए कहा कि आज जिस तरह से अल्पसंख्यकों और दलितों पर उत्पीड़न हो रहे हैं वो मध्यकाल में और ब्रिटिश राज में होते थे.” आजाद ने कहा, इसलिए इन मामलों में कोई गिरफ्तारी नहीं होती है. लगातार हो रही मॉब लिंचिंग से रूलिंग पार्टी के अलावा और किसी को फायदा नहीं है.

और पढ़े -   गोरखपुर में मृतक बच्चो के परिजन से मिले राहुल गाँधी, योगी ने सुनाई खरी खरी

मध्य प्रदेश का उदाहरण देते हुए आजाद ने कहा, ‘एक दोस्त पीट-पीट कर दो दोस्तों की हत्या करवा देता है. राजस्थान में तीन दलितों को ट्रैक्टर की नीचे कुचल दिया गया. अलवर में बेदर्दी से बीजेपी के एमएलए के कहने पर एक विधवा तक को लोगों ने नहीं छोड़ा, बल्लभगढ़ में ईद के लिए सामान खरीदने गए जुनैद की हत्या कर दी गई. देश में इस तरह की आए दिन घटनाये सामने आया रही है.

और पढ़े -   बिहार में हुए सर्जन घोटाले के एक आरोपी नाजिर महेश की मौत, लालू ने नितीश पर उठाये सवाल

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE