rashid alvi

नई दिल्ली – यूपी के अमरोहा से पूर्व एमपी रहे रशीद अल्वी को प्रधानमंत्री मोदी पर टिप्पणी करना महंगा पड़ गया।कार्यक्रम के दौरान राशिद अल्वी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को स्टूपिड बताया। जिसे लेकर वहां मौजूद बीजेपी समर्थक भड़क गए तथा राशिद अल्वी शर्म करो नारे लगाने शुरू कर दिए तथा माफ़ी मांगने के लिए हल्ला करने लगे।

कार्यक्रम में मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी भी मौजूद थी। उन्होंने भी अल्वी को उनकी सोच और भाषा को लेकर लताड़ लगाई। मोदी सरकार के दो साल पूरे होने पर सोमवार को एक न्यूज चैनल ने कार्यक्रम रखा था। इसमें स्मृति ईरानी के अलावा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राशिद अल्वी शामिल हुए। अल्वी ने ईरानी से पूछा कि गूगल सर्च में मोदी को सबसे स्टूपिड पीएम बताया जाता है।

ईरानी ने अल्वी से कहा,कांग्रेस में जो लोग मोदी पर पत्थर उछालते हैं या गाली देते हैं,उन्हें बहुत पसंद किया जाता है। यहां मौजूद लोगों में सभी भाजपा के समर्थक नहीं है लेकिन वो भी खफा हैं। मोदी के खिलाफ जो जहर उगला जा रहा है वो अब सीमाएं पार कर रहा है। यह नहीं भूलना चाहिए कि वो इस देश के प्रधानमंत्री हैं। राशिद अल्वी अगर देश के प्रधानमंत्री के लिए इस तरह के शब्द इस्तेमाल कर सकते हैं तो फिर उनसे महिलाओं को इज्जत देने की उम्मीद कैसे रखी जा सकती है?

गौरतलब है की google सर्च में पिछले वर्ष मोदी स्टुपिड बताया जा रहा था लेकिन उसके साथ साथ ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री टोनी एबॉट से लेकर ब्रिटेन के पीएम डेविड कैमरन का भी नाम आया था। माना जाता है कि ऐसा गूगल के एल्गोरिथम की गलती से हुआ था। पिछले साल ही जून में गूगल पर मोस्ट वांटेड क्रिमिनल्स सर्च करने पर दाऊद इब्राहिम के साथ मोदी का नाम भी आ रहा था।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें