नई दिल्ली अटल सरकार में कद्दावर मंत्री रहे देश के नामी वकील राम जेठमलानी ने फिर एकबार बीजेपी पर हमला बोला है। शुक्रवार को कानपुर में उन्होंने कहा है कि बीजेपी छोड़ने के बाद दोबारा 2010 में अमित शाह को प्रोटेक्ट करने के लिए बीजेपी में शामिल होने का न्यौता मिला था। जेठमलानी ने पीएम मोदी पर भी निशाना साधा है। आपको बता दें कि राम जेठमलानी को एंटी पार्टी गतिविधि के चलते पार्टी से निकाल दिया गया था।

और पढ़े -   कर्ज माफी पर शिवसेना की धमकी - योजना ठीक से लागू नहीं हुई तो बीजेपी का फोड़ेंगे भांडा

जेठमलानी ने और क्या कहा-

– ”मैं बीजेपी का फाउंडर मेंबर था, जब पार्टी अस्तित्व में आई थी। जब पहली बार अटल जी की सरकार आई तो उन्होंने मुझे अर्बन डेवलपमेंट मिनिस्टर बनाया।”

– ”मैं लॉ मिनिस्टर बनना चाहता था, लेकिन अटल ने लॉ मिनिस्ट्री जयललिता के रिश्तेदार को देने का फैसला कर लिया था।”

– ”अटल जी मुझसे डरते थे, मेरे जवाब पर वो कुछ बोल नहीं पाते थे। वो इतना डरते थे कि उन्होंने एलान कर दिया था इसको हम अर्बन डेवलपमेंट मिनिस्ट्री से कभी न कभी निकालेंगे।”

और पढ़े -   ममता बनर्जी ने भरी हुंकार, 9 अगस्त से बीजेपी भारत छोड़ो आन्दोलन करने करेंगी शुरू

– ”आखिरकार उन्होंने हमें हटाकर लॉ मिनिस्टर बना दिया। इस मिनिस्ट्री में रहते हुए जब मैंने एक अहम काम किया था। तो मुझसे उन्‍होंने इस्तीफा मांग लिया।”

– ”इस पर मैंने बिना विचार किए अपना इस्तीफा उनको फैक्स कर दिया। इसके बाद से लेकर आज तक मैंने अटल का चेहरा नहीं देखा।”

– जेठमलानी ने कहा, ”बीजेपी के अंदर सभी अहम नेता मोदी के पीएम बनने से खुश नहीं है।”

और पढ़े -   मोब लिंचिंग की हर घटना में आरएसएस से जुड़े लोगों का हाथ: गुलाम नबी आजाद

– ”मुझे यह कहते हुए शर्म आती है कि मोदी हमारे देश के पीएम नहीं, बल्कि वो दूसरे देशों के पीएम हैं।”

– ”मैं लोगों से अपील करूंगा कि आपका वोट बहुत कीमती है। आप इसे देने के पहले उस प्रत्याशी के बैकग्राउंड और उसके चरित्र को जरूर देखें।”

– ”जो जनता के हित में काम करता हो और जिसे डेमोक्रेसी की चिंता हो, उसे ही वोट दें।”  साभार: न्यूज़ 24


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE