नई दिल्ली | कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी आजकल एक नए अवतार में नजर आ रहे है. वह प्रधानमंत्री मोदी , बीजेपी और आरएसएस पर कोई भी वार करने का शायद ही कोई मौका चुकते होंगे. शुक्रवार को भी उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी और आरएसएस पर करार प्रहार करते हुए उन्हें तानाशाह और हिटलर की संज्ञा दे डाली. राहुल ने आरोप लगाया की केंद्र की बीजेपी सरकार देश में राजशाही वापिस लाना चाहती है.

राहुल ने 21 जुलाई को एक के बाद एक कई ट्वीट कर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने मोदी को हिटलर बताते हुए लिखा की एक बार हिटलर ने कहा था की वास्तविकता पर अच्छी पकड़ बनाये रखो ताकि जब चाहो तुम उसमें बदलवा कर सको. देश में फ़िलहाल ऐसा ही हो रहा है. राहुल गाँधी ने आरोप लगाया की मोदी सरकार झूठ बोलकर वास्तिवकता को छुपाना चाह रही है.

राहुल ने मोदी सरकार पर आरोप लगाया की यह सरकार झूठ बोलकर देश को राजशाही की ओर ले जाना चाहती है, जहाँ कोई सवाल न किये जाए, जहाँ जनता ताकत से कुचल दी जाती है. जहाँ लोगो की आवाज को दबा दिया जाता है , जहाँ गरीबो और कमजोर लोगो को कुचल दिया जाता है. नोट बंदी की वजह से हजारो कारोबार तबाह हो गए, सैकड़ो लोग मर गए लेकिन मोदी जी संसद में इस पर एक शब्द भी नहो बोलते.

राहुल ने आगे कहा की मोदी जी की असलियत सब जानते है लेकिन किसी की भी उनके सामने बोलने की हिम्मत नही होती. आज हकीकत का गला घोटा जा रहा है. रोहित वेमुला के बारे में राहुल ने कहा की ये लोग कहते है की उसने आत्महत्या की लेकिन मैं कहता हूँ की उसकी हत्या हुई है. उसे मार दिया गया क्योंकि वो दलित था. मोदी सरकार का मकसद भारतीय संविधान को तहस-नहस करना है, जो हमें अंबेडकर की ओर से दिया गया था.

उधर राहुल के आरोपों पर पलटवार करते हुए स्मृति ईरानी ने उनका धन्यवाद करते हुए कहा की आपने आजतक जो कुछ भी किया है उसके लिए बीजेपी आपको धन्यवाद देती है. लेकिन आप सच बोलने में 42 साल लेट हो गए. हिटलर से कौन प्रेरित है , यह बताने की जरुरत नही है. किसने आपातकाल लगाया और लोकतंत्र को किसने कुचल यह सबको पता है. स्मृति ने आगे कहा की कांग्रेस का भविष्य धूमिल है अपने देश का नहीं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE