“मैं भगवान राम में भरोसा नहीं करता लेकिन शिव और बुद्ध पर करता हूं।” ये बयान है राहुल गांधी का, जो उन्होंने ऑफ द रेकॉर्ड कुछ जर्नलिस्ट्स को दिया।

कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने घोषणा की है कि वो भगवान राम में नहीं, बल्कि गुरु नानक और बुद्ध में यकीन रखते हैं। उन्होंने ये तब किया जब वे इसी हफ्ते टीवी चैनल्स के 23 सीनियर इनपुट एडिटर्स से मिले थे।
राहुल गांधी ने ये भी कहा कि अगर फैसला होता है तो पार्टी अध्यक्ष बनने के लिए भी तैयार हैं। लेकिन उन्हें नहीं लगता कि पद और पार्टी में उनका कद उन्हें वो सब करने से रोक सकता है, जो वो पार्टी के भले के लिए करना चाहते हैं।
राहुल गांधी ने इसी दौरान खुलासा किया कि वो राम और विष्णु में यकीन नहीं रखते। लेकिन शिव, नानक और बुद्ध में भरोसा है क्योंकि वो ज्यादा प्रैक्टिकल थे। राहुल गांधी के मुताबिक 2014 के नतीजे उनके लिए तोहफे जैसे थे क्योंकि काफी सारी चीजें धुल गईं।
मोदी के बारे में गांधी ने कहा कि मोदी वन-मैन शो चलाते हैं और उनकी सरकार के मंत्रियों के पास कुछ करने की ताकत ही नहीं है। (Live India)

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें