देश में गौरक्षा के नाम पर चिन्हित कर मुस्लिमों और दलितों की हत्या की जा रही है. ऐसे में गुरुवार को अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि गौभक्ति के नाम पर लोगों की हत्या बर्दाश्त नहीं की जा सकती है.

प्रधानमंत्री के बयान की आलोचना करते हुए कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नरेन्द्र मोदी को आड़े हाथ लिया है. उन्होंने कहा कि जब तक बात पर अमल न हो, शब्दों का कोई मतलब नहीं है. उन्होंने कहा कि  प्रधानमंत्री ने इस मुद्दे पर बहुत कम बोला और बहुत विलंब से बयान दिया. उन्होंने साथ ही कहा कि शब्दों नहीं उन पर अमल करने का महत्व है.

राहुल ने ट्वीट करके कहा है कि पीएम मोदी ने गोरक्षकों पर बोलने पर देर कर दी. उन्होंने कहा कि कहने से कुछ नहीं होगा कार्रवाई होनी चाहिए.

वहीँ कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता एवं महासचिव गुलाम नबी आजाद ने कहा, देश में इतनी घटनाएं हुई, प्रधानमंत्री ने क्या कार्वाई की। यह सब फिजूल है. एक छलावा है. उन्होंने कहा कि देश में पीट पीट कर मार डालने की घटनाएं बढ़ती जा रही है.

आजाद ने कहा, प्रधानमंत्री ने यह जो बयान दिया है यह छलावा के सिवाय कुछ नहीं है. उन्होंने कहा कि ऐसी कई घटनाओं में तो प्राथमिकी भी दर्ज नहीं की जाती है. सरकार द्वारा कोई कार्वाई नहीं की जा रही है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE