कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी यूं तो बीजेपी की नीतियों के खिलाफ जनसभाओं में बोलते ही रहते हैं, लेकिन सोमवार को बीजेपी के खिलाफ राहुल गांधी का गुस्सा सोशल साइट ट्विटर पर फूट पड़ा.

राहुल गांधी ने हैदराबाद यूनिवर्सिटी और जेएनयू में ‘मनुवादी सोच’ के खिलाफ चले अभियान को लेकर अपने ट्वीट में लिखा है कि ‘अधिकार’ शब्द ही मनु की सोच के खिलाफ है.

उन्होंने लिखा कि कांग्रेस पार्टी गरीबों की बात करती है, जबकि RSS मनुवाद को बढ़ावा देने की बात करता है.

राहुल गांधी ने लिखा कि उनकी पार्टी ने संविधान के माध्यम से मनुवादी सोच को सबसे बड़ी चोट मारी.

इतना ही नहीं राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि देश में कोई भी मर जाए, मोदी जी को कोई फर्क नहीं पड़ता. उन्होंने कहा कि मोदी को सिर्फ अपने मन की बात करनी आती है,

राहुल गांधी ने एक अन्य ट्वीट में बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा समय में भारत में एक भी यूनिवर्सिटी ऐसी नहीं है, जहां RSS के लोग न बिठाए गए हों.

उन्होंने रोहित वेमुला की हत्या को देश के लिए कुर्बानी बताते हुए कहा कि हैदराबाद में RSS ने अपना कुलपति बिठाया था, जिसने रोहित वेमुला की आवाज को दबा दिया.

एक अन्य ट्वीट में कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि देश में जो भी कमजोर तबके के लोग हैं, उनकी आवाज को कुचला जा रहा है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस कमजोरों की आवाज को कुचलने नहीं देगी.

राहुल गांधी ने ट्विटर के जरिए देश की जनता से सवाल करते हुए कहा कि आप लोग सोचें कि बीजेपी और RSS के लोग उनके ऊपर हमले क्यों करते हैं.

राहुल गांधी ने कहा कि वह मनुवादी विचारधारा के सामने कभी नहीं झुकेंगे. उन्होंने कहा कि इसी विचारधारा ने देश को झुकाया था और अब वह इस देश को झुकते हुए नहीं देखना चाहते हैं.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्विटर पर करीब एक घंटे में एक के बाद एक दर्जनभर से ज्यादा ट्वीट करते हुए बीजेपी, पीएम और RSS पर जमकर निशाना साधा. (thequint.com)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE