rahul-gandhi-attack-on-rss-and-manu-ideology

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े मानहानि के के केस में गुरुवार को कामरूप जिले की मेट्रोपॉलिटन अदालत में हाजिर हुए.

इस दौरान उन्होंने कहा कि उनकी लड़ाई आरएसएस के विचारों के खिलाफ हैं, आरएसएस के लोग देश बांटने का काम कर रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि गरीबों के खिलाफ लड़ाई और सांप्रदायिक सद्भाव के अभियान को रोकने के लिए उन्हें निशाना बनाया जा रहा है.

याद रहें कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) ने पिछले साल राहुल गांधी के खिलाफ कथित तौर पर संगठन की छवि खराब करने के लिए मानहानि का केस दर्ज कराया था. राहुल के खिलाफ इस मामके में  IPC की धारा 499 और 500 के तहत मामला दर्ज कराया गया था.

RSS के वकील ने बताया कि राहुल को 50 हजार के बॉन्ड भरने पर जाने दिया गया. RSS के कार्यकर्ता अंजन बोरा ने राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज कराया था.

बोरा का आरोप है कि राहुल ने मीडिया के सामने कहा था कि उन्हें RSS ने असम के बारपेटा जिले में स्थित बारपेटा सत्र में प्रवेश नहीं दिया था. बोरा ने कहा कि आरएसएस सत्र का संचालन नहीं करता, इसलिए वह राहुल को रोक नहीं सकता था.

उन्होंने आगे कहा, राहुल गांधी के बयान से सत्र की प्रतिष्ठा को भी धक्का पहुंचा। इसलिए उन्होंने राहुल गांधी के खिलाफ मामला दर्ज कराया .


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें