डिगबोई/असम। असम के डिगबोई में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए केंद्र सरकार और भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि जहां भी भाजपा सत्ता में आती है, लोगों के बीच हिंसा भड़कने लगती है।

उन्होंने कहा कि, ‘सोचिए उन तमाम विकास कार्यों का क्या होगा, अगर असम में भी हिंसा होने लगेगी। प्रधानमंत्री जहां भी जाते हैं विकास की बात करते हैं, लेकिन जिस भी राज्य में भाजपा सरकार बनी वहां सिर्फ हिंसा ही दिखी है, विकास नहीं। भाजपा और हिंसा दोनों साथ-साथ चलते हैं। हमारे सामने चुनाव हैं और देश में दो विचारधाराओं की टक्कर हो रही है। विचारधारा की लड़ाई में एक तरफ कांग्रेस है तो दूसरी तरफ भाजपा, आरएसएस और मोदी हैं।

कांग्रेस देगी 2 रुपए किलो चावल

उन्होंने चुनावी वादों की झड़ी में कहा कि अगर कांग्रेस की सरकार लौटी तो वह राज्य की जनता को 2 रुपए प्रति किलो की दर से चावल उपलब्ध कराएंगे।

मेरिट के आधार पर देंगे स्कॉलरशिप

युवाओं को आकर्षित करने के लिए उन्होंने कहा कि कांग्रेस सत्ता में आई तो हर जिले में 100 छात्रों को सिविल सेवा परीक्षाओं की तैयारी के लिए मेरिट के आधार पर स्कॉलशिप देगी।

फेयर एंड लवली स्कीम क्यों लाए मोदी

काले धन और विजय माल्या के मुद्दे पर एक बार फिर केंद्र सरकार को घेरते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘एक तरफ मोदी कहते हैं कि काले धन की लड़ाई लगेंगे, दूसरी तरफ माल्या जी भाग के चले जाते हैं। जाने से 2-3 दिन पहले जेटली से उनकी बात होती है संसद भवन में।’

उन्होंने कहा कि अगर प्रधानमंत्री वास्तव में भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं तो वो फेयर एंड लवली स्कीम लेकर क्यों आए। पीएम मोदी ने विदेशों से कालाधन लाने की बात की थी तो माल्या और आईपीएल के पूर्व प्रमुख ललित मोदी अब तक विदेश में क्यों हैं। (Rajasthan Patrika)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें