rahul-gandhi_650x400_61445862140

नई दिल्ली | जब से प्रधानमंत्री मोदी ने नोट बंदी का फैसला लिया है वो दो बार , सार्वजनिक कार्यक्रम में भावुक हो चुके है. मंगलवार को मोदी जी बीजेपी संसदीय समिति की बैठक में तीन बार भावुक हुए. प्रधानमंत्री मोदी की इस भावुकता पर राहुल गाँधी ने तंज कसा है. राहुल ने कहा की मोदी जी सब जगह बोल रहे है सिवाए संसद के. एक बार लोकसभा में हमें सुन लीजिये और भावुक हो जाओगे.

संसद से बाहर निकलते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा की मोदी जी टीवी पर बोल सकते है, यहाँ तक की पॉप कॉन्सर्ट में भी बोल सकते है लेकिन उनको संसद आने से डर लगता है. वो लगातार गरीबो की बात कर रहे है लेकिन संसद में नही कर रहे. एक बार डिबेट होने दीजिये सब साफ़ हो जायेगा.

राहुल गाँधी ने आगे कहा की मोदी जी एक बार संसद आकर हमें सुनिए, आप और भावुक हो जाओगे. उधर कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने भी मोदी की भावुकता पर प्रहार किया. आनंद शर्मा ने कहा की पीएम की भावुकता केवल पाखण्ड है. उन्हें तो रोने और हंसने की कला में महारत हासिल है. वो जब चाहे रो देते है जब चाहे हंस देते है.

आनंद शर्मा ने मोदी के रोने पर तंज कसते हुए कहा की मोदी जी आप नही देश रो रहा है. पीएम मोदी के अपनी एप पर नोट बंदी के लिए लोगो से सुझाव मंगाने पर भी आनंद शर्मा ने प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा की देश में अघोषित आपातकाल लागू करने से पहले आपने देश से पूछा था? तो फिर अब क्यों पूछ रहे हो? इस पर मोदी जी को सफाई देनी चाहिए.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Related Posts

loading...
Facebook Comment
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें