narendra-modi-rahul-gandhi020913

नई दिल्ली | नोट बंदी के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष फ्रंट फूट पर दिखाई दे रहे है. वो लगातार प्रधानमंत्री मोदी पर हमला कर रहे है. संसद के अन्दर और बाहर , वो कोई ऐसा मौका नही चुक रहे जिसमे वो मोदी को निशाना बना सकते है. इसी को देखते हुए राहुल गाँधी ने आज अपने सभी सांसदों के साथ बैठक की. इसमें उन्होंने कश्मीर मामले से लेकर नोट बंदी तक में मोदी को कठघरे में खड़ा किया.

राहुल गाँधी ने आज पहली बार कांग्रेस संसदीय दल की बैठा की अध्यक्षता की. सोनिया गाँधी बीमार होने की वजह से इसकी अध्यक्षता नही कर सकी. इस बैठक में राहुल गांधी काफी आक्रमक मुद्रा में दिखे. उन्होंने मोदी पर टीआरपी की राजनीती करने का आरोप लगाते हुए कहा की देश को पहली बार ऐसा प्रधानमंत्री मिला है जो टीआरपी के हिसाब से अपनी रणनीति बनाता है.

राहुल गाँधी ने आगे कहा की कांगेस ने देश को कभी ऐसा प्रधानमंत्री नही दिया जो अपनी छवि में बंधा हुआ हो और इसे देश से ज्यादा अपनी छवि प्यारी हो. हमने कभी ऐसा प्रधानमंत्री भी नही दिया जो अपनी छवि को बचाने के लिए देश को मुसीबत में डाल दे. देश उनके ( पीएम ) गुरुर और विफलताओ की कीमत चुका रहा है. राहुल गाँधी ने कश्मीर मामले में मोदी सरकार की नीतियों की भी आलोचना की.

राहुल गाँधी ने कहा की प्रधानमंत्री ने राजनीती में एक वैक्यूम बना दिया है. इसका फायदा आतंकी उठा रहे है जिसका खामियाजा न प्रधानमंत्री भुगत रहे है और न ही रक्षा मंत्री. इसका खामियाजा सैनिको के परिवार भुगत रहे है. अब तक 85 सैनिक शहीद हो चुके है जो अब तक पिछले दस सालो में सबसे ज्यादा है. उन्होंने अवसरवादी पीडीपी-बीजेपी गठबंधन किया जिससे भारत विरोधी ताकतों को बल मिला.

राहुल गाँधी ने सर्जिकल स्ट्राइक पर बोलते हुए कहा की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद आतंकी हमले और बढ़ गए. सर्जिकल स्ट्राइक के बाद 21 आतंकी हमले हो चुके है और सैकड़ो पर सीज फायर का उलंघन हुआ है. प्रधानमंत्री जी को चाहिए की वो कश्मीर पर ठोस रणनीति बनाये. वो हमें कहते थे की हम आतंकी हमलो के बाद चुप रहते थे, लेकिन आज वो चुप है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें