nasi

बहुजन समाज पार्टी के महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि सियासी दलों ने आजादी के बाद से मुसलमानों को ठगा है. 

उन्होंने मुसलमानों की तुलना तेजपत्ते से करते हुए आगे कहा, मुसलमानों को कोरमे में तेजपत्ते की माफिक इस्तेमाल किया गया, जिसे कोरमा बनने तक तो संभालकर रखा जाता है, लेकिन कोरमा बनने के बाद इसे फेंक देते हैं. पहले कांग्रेस ने ऐसा किया और बीते चुनाव में सपा ने.

और पढ़े -   गुजरात में मायावती ने किया चुनाव प्रचार शुरू, कहा - बसपा की हुई जीत तो नहीं होगी उना जैसी घटना

गढ़ रोड स्थित राजा-रानी मंडप में रविवार को पार्टी का मंडलीय सम्मेलन में भाग लेने पहुंचे सिद्दीकी ने 9 अक्टूबर को लखनऊ में कांशीराम की पुण्यतिथि पर आयोजित रैली के लिए प्रत्याशियों को लक्ष्य देते हुए कहा, हवा में काम करने वाले नेताओं की पार्टी को जरूरत नहीं है. हर विधानसभा क्षेत्र से पांच हजार लोगों को रैली में ले जाना होगा.

सिद्दीकी ने नेताओं को ताकीद करते हुए आगे कहा कि पूर्व में सहारनपुर में हुई मायावती की रैली में कई प्रत्याशी 50-60 बसें ही लेकर गए थे. लेकिन लखनऊ की रैली में ऐसा नहीं चलेगा. हर प्रत्याशी की बस को जांचा जाएगा.

और पढ़े -   देश की अर्थव्यवस्था को वायग्रा की जरूरत, बीजेपी को सरकार चलाना नहीं आता: कपिल सिब्बल

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE