maya11

बसपा प्रमुख मायावती ने भारतीय सेना को सर्जिकल स्ट्राइक की कामयाबी पर बधाई देते हुवे कहा कि सरकार को पठानकोट हमले के फौरन बाद ऐसी कार्रवाई कर देनी चाहिए थी. उन्होंने आगे कहा, यह काफी देर से लिया गया फैसला है.

मायावती ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर पठानकोट हमले के बाद तुंरत बाद यह कार्रवाई की गई होती तो उरी जैसी दुर्भाग्यपूर्ण घटना को टाला जा सकता था और हमारे 19 जवानों की जान बच सकती थी. उन्होंने कहा, ‘‘अगर पठानकोट आतंकी हमले के बाद ऐसी त्वरित कार्रवाई की गयी होती तो उरी की दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण घटना से बचा जा सकता था और 19 सैनिकों को बचाया जा सकता था.’’

बसपा सुप्रीमो ने आगे कहा, भाजपा और मोदी सरकार अति उत्साहित होकर जश्न मना रही हैं. यह जश्न मनाने का समय नहीं है और ना ही इसका चुनावी लाभ लेने की कोशिश करनी चाहिए. देश के सामने अब चुनौतियां बढ़ गई है और देश की सुरक्षा के लिए सावधान रहने की जरूरत है.

उन्होंने आगे कहा कि भारत की पाकिस्तान सहित सभी अंतरराष्ट्रीय सीमाओं को मजबूत बनाने की ओर ध्यान देना चाहिए. वर्तमान सरकार ने अपने ढाई साल के कार्यकाल में इस ओर काफी कम ध्यान दिया है जिसकी वजह से देश में आतंकी गतिविधियां लगातार जारी रही हैं और आम जनता के साथ-साथ सैनिकों की भी जान गयी है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें