rahul78

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को संसद के शीतकालीन सत्र में मोदी सरकार पर शहीदों को अनादर करने का आरोप लगाते हुए कहा कि संसद का नियम है कि जब भी सीमा पर कोई जवान शहीद होता है तो हम उनका आदर करते हैं. आज पहली बार हमारे जो सैनिक शहीद हुए हैं उनका आदर नहीं किया गया.

राहुल गांधी ने कहा, “पार्लियामेंट का नियम है कि जब भी किसी की मृत्यु होती है तो हम उनका आदर करते हैं. आज पहली बार हमारे जो सैनिक मरे हैं उनका आदर नहीं किया. इसलिए हमारी पार्टी और विपक्ष ने वॉकआउट किया”

और पढ़े -   बीजेपी नेता ने कहा - हिंदू आतंकवादी नहीं होता, जवाब में बोले दिग्विजय - संघी तो होता है

राहुल गांधी के आरोपों पर केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने पलटवार करते हुए कहा कि देश की रक्षा और देश की सेना को लेकर भी कांग्रेस पार्टी राजनीति कर रही है. ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने आगे कहा, देश के लोगों को इस तरह की छोटी राजनीति से नफरत है.

वहीँ बीएसपी प्रमुख मायावती ने कहा कि सरकार जवानों की शहादत को लेकर संवेदनशील नहीं है. गौरतलब रहें कि  मंगलवार को जम्मू के नरगोटा में हुए आतंकी हमले में 7 सैनिकों शहीद हो गए.

और पढ़े -   शहजाद पूनावाला ने पुछा - कर्ज माफी के लिए किसान कौनसा आसन करे, दिग्विजय बोले - शवासन

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE