केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने आज कहा कि रयान इंटरनेशनल स्कूल में सात साल के बच्चे की हत्या की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है और अभिभावकों तथा स्कूलों के अधिकारियों को बच्चों के यौन शोषण को लेकर सतर्क रहना चाहिए।

दूसरी कक्षा के छात्र का कल सुबह स्कूल के वाशरुम में तेजधार हथियार से गला रेत दिया गया था और बाद में उसे अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया । पुलिस ने बच्चे का कथित तौर पर यौन शोषण की कोशिश करने और उसकी हत्या करने के मामले में स्कूल बस के कंडक्टर को गिरफ्तार कर लिया है।

और पढ़े -   राजनाथ सिंह: रोहिंग्याओं को वापस लेने के लिए म्यांमार तैयार, अब आपत्ति क्यों ?

महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने ट्वीट किया, गुरुग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में कल की घटना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है और मेरी संवेदनाएं शोक-संतप्त माता-पिता के साथ हैं। मैं सभी स्कूलों के अधिकारियों और अभिभावकों से अनुरोध करती हूं कि बच्चों के शोषण की किसी वास्तविक या संदिग्ध घटना को लेकर सतर्कता बरतें।

उन्होंने यह भी कहा कि सरकार बाल यौन शोषण से निपटने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। उन्होंने अभिभावकों से अनुरोध किया कि इस तरह की घटनाओं की शिकायत ऑनलाइन शिकायत पेटिका पॉक्सो ईबॉक्स में करें।

और पढ़े -   अमेरिका में बोले राहुल - असहिष्णुता और बेरोजगारी के चलते देश खतरे में जा रहा

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने ईबॉक्स की शुरूआत की है। एनसीपीसीआर की वेबसाइट पर इसे देखा जा सकता है। (भाषा)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE