हेदराबाद से सांसद और एमएआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने एनआईए द्वारा हैदराबाद से ISIS से कथित रिश्तों को लेकर हुई युवाओं की गिरफ्तारी पर क़ानूनी मदद देने का फैसला किया हैं.

ओवैसी ने इस बारे में कहा कि जो लोग गिरफ्तार किए गए हैं, उनके परिजन मेरे पास आयें थे. मैंने उनसे वादा किया है कि मेरी पार्टी उन लोगों को कानूनी तौैर पर मदद जरूर करेगी. ओवैसी ने इस मामलें में नामपल्ली के सीनियर क्रिमिनल लॉयर अब्दुल अजीम से सलाह भी ली हैं.

और पढ़े -   म्यांमार में तो हिन्दू भी मारे जा रहे, मोदी सरकार उन्हें ही बचा कर ले आए: ओवैसी

ओवैसी ने केंद्र सरकार पर दोहरा रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि वो दहशतगर्दी का समर्थन नहीं करते लेकिन मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस और अजमेर ब्लास्ट केस को लेकर केंद्र सरकार का स्टैंड सॉफ्ट है. उन्होंने कहा कि आईएस कातिलों और रेपिस्टों का संगठन है और उसका इस्लाम से कोई लेनादेना नहीं है और मैं, अल्लाह से दुआ मांगता हूं कि ये आतंकी संगठन खत्म हो जाए.

और पढ़े -   हार्दिक पटेल की पटेल समुदाय से अपील कहा, बीजेपी को वोट मत देना चाहे मेरे पिता भी कहे

उन्होंने आगे कहा मुस्लिम हमेशा से इस देश के लिए वफादार रहे हैं. उन्होंने पीएम मोदी से हरियाणा के उन मुस्लिमों के बारे में भी बोलने को कहा जिन्हें गाय चोरी के आरोप में गोबर खिलाया गया था.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE