सीपीआई (एम) नेता सीताराम येचुरी ने भाजपा पर आरोप लगाया कि वह देश में हिन्दू राज्य की अपनी विचारधारा थोपने का प्रयास कर रही है। उन्होंने सरकार से मांग की कि वह केंद्रीय विश्वविद्यालयों में हस्तक्षेप से बाज आए और छात्रों पर शिकंजा करने से परहेज करे।

Sitaram-Yechury

दलित छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या और जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में छात्रों की गिरफ्तारी पर पैदा विवाद पर उन्होंने सरकार से मांग की कि वह हाउस समिति संगठित करे ताकि विभिन्न केंद्रीय विश्वविद्यालयों में होने वाली हर तरह के बदलाव की समीक्षा की जा सके ।

और पढ़े -   दारू पीकर अय्याशी करने वाले अजान पर आवाज उठा रहे: अबू आजमी

सीताराम येचुरी ने कहा कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है। यहां एक सक्योलर लोकतांत्रिक व्यवस्था स्थापित है लेकिन इसको हिंदू राज्य में बदलने की कोशिश की जा रही है। और इसी उद्देश्य के तहत छात्रों को परेशान किया जा रहा है। विश्वविद्यालयों में सरकार का हस्तक्षेप बेजा और अवैध है।

उन्होंने राष्ट्रवाद की आड़ में की जाने वाली कार्रवाइयां को गंभीर मामला करार दिया और अपने बयान में सरकार से सख्त सवाल किया कि ‘क्या सरकार का विरोध करने वाला विपक्ष को भी देशद्रोही करार दिया जाएगा ?!’। (hindkhabar)

और पढ़े -   मोदी और आरएसएस चाहते हैं कि भारत अपनी आवाज ‘सरेंडर’ कर दे: राहुल गांधी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE