बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कहा कि ‘गोरक्षा’ के नाम पर गरीब हिन्दूओ को भी भगवा ब्रिगेड अपना शिकार बना रही है. उन्होंने कहा कि ये सब बीजेपी के संरक्षण में हो रहा है.

मायावती ने कहा, ‘‘हिन्दु युवा वाहिनी के नाम पर भी प्रदेश में काफी अराजकता फैलाई जा रही है और बीजेपी सरकार यह सब कुछ स्वीकार करते हुये भी उन तत्वों के खिलाफ सख़्त कानूनी कार्रवाई नहीं कर पा रही है, यह गंभीर चिन्ता की बात है.’’

उत्तराखण्ड प्रदेश के पदाधिकारियों की बैठक लेते हुए बसपा प्रमुख ने कहा कि उत्तराखण्ड एक पड़ोसी राज्य है वहां के भी राजनीतिक व सामाजिक हालात काफी कुछ एक जैसे ही हैं. त्तर प्रदेश की तरह ही उत्तराखण्ड में भी खासकर गरीबों, दलितों, पिछड़ों व ब्राह्मण समाज जातिवादी भेदभाव, राजनीतिक द्वेष व जुल्म-ज्यादती के शिकार बनाये जा रहे हैं और यह सब खुले तौर पर सरकारी संरक्षण में हो रहा है.

उन्होंने कहा. दलित और पिछड़े वर्ग के लोगों को भी हर स्तर पर जातिवादी भेदभाव और ज्यादती का शिकार बनाया जा रहा है, जिसकी बीएसपी कड़ी निन्दा करती है.उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं बल्कि ‘गोरक्षा’ के नाम पर अब भगवा ब्रिगेड के अराजक और आपराधिक तत्व ग़रीब हिन्दुओं को भी अपनी हिंसक ताण्डव का शिकार बना रहे हैं और बीजेपी सरकार की शासन-व्यवस्था उनके प्रति नरम रवैया अपनाकर उन तत्वों को बचाने का काम करती हुई नज़र आती है.

मायावती ने कहा कि सहारनपुर जिले की जातिवादी दलित उत्पीड़न की घटनाओं के संबंध में भी प्रदेश की भाजपा सरकार का रवैया भी न्यायपूर्ण नहीं लग रहा है. इन मामलों में भाजपा के नेताओं व इनके मंत्रियों का रवैया भी स्वतंत्र व निष्पक्ष नहीं बल्कि पक्षपातपूर्ण ही महसूस होता है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE