मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने पर लोकसभा मेें कांग्रेस के मुख्य सचेतक एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने  बीजेपी को निशाने पर लेते हुए कहा कि आज देश की ये हालत हो गई है कि अगर कोई असहिष्णुता पर चर्चा करता है तो उसे देशद्रोही कहा जाता है.

उन्होंने देश भर में नक्सलियों और आतंकियों के हाथों सुरक्षा बलों के जवानों के मारे जाने पर कहा कि सिंधिया देश में जब अातंकी वारदात या सीमा घटना होती है तो कहा जाता है कि मुंहतोड़ जवाब देंगे लेकिन होता कुछ नहीं. सिंधिया ने कहा, जब हम सरकार में थे सुषमा स्वराज ने कहा था कि एक के बदले 10 सिर लाना चाहिए.

और पढ़े -   स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस बन गए 'पिकनिक डे' - शिवसेना

उन्होंने आगे कहा, उस वक्त स्मृति ईरानी ने कहा था कि प्रधानमंत्री को चूड़ियां भेजनी चाहिए. राम माधव ने कहा था कि एक दांत के बदले पूरा जबड़ा लाना चाहिए. लेकिन हमारे जवान सीमा पर मारे जा रहे हैं, अब सरकार क्या कर रही है.

सिंधिया ने भाजपा पर दलित मुक्त भारत बनाने का भी आरोप लगाया है. साथ ही उन्होंने कहा कि गौरक्षा के नाम पर देशभर में सत्ता संरक्षित गुंडागर्दी की जा रही है.

और पढ़े -   कश्मीर पर मोदी के 'गोली और गाली' वाले बयान पर भडकी शिवसेना कहा, केवल धारा 370 हटाना ही एक मात्र हल

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE