एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी म्यांमार यात्रा पर अंतिम मुग़ल बादशाह की मजार पर जाकर श्रद्धांजलि देते है तो वहीँ दूसरी और उनकी पार्टी के नेता मुगलों को लुटेरा करार देते है.

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने एक समाचार चैनल के कार्यक्रम में कहा कि मुगल शासक लुटेरे थे, वो हमारे पूर्वज नहीं हैं और अब यही इतिहास लिखा जाएगा. हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि जिन मुगल शासकों ने गलत काम किया है, हम उन्हें ही लुटेरा मानते हैं.

और पढ़े -   सुब्रमण्यम स्वामी ने की हिन्दुओं से अपील - मुस्लिमों में डाले फुट, करे एकता को खत्म

शर्मा ने कहा, ‘बाबर और औरंगजेब लुटेरे थे, शाहजहां हाथ काटने वाला था. मगर, मंगल पांडे ने जब क्रांति की शुरुआत की तो बहादुर शाह जफर ने इसका समर्थन किया. उन्होंने भारत में गोहत्या का विरोध किया था. इसलिए उनका कोई विरोध नहीं है’.

दिनेश शर्मा ने पीएम मोदी के बहादुरशाह जफर की दरगाह जाने पर कहा कि बहादुरशाह जफर अच्छे मुगल शासक थे, इसीलिए मोदी जी म्यांमार में उनकी दरगाह पर गए थे. इसके अलावा अकबर ने अच्छे काम किए होंगे तो वो इतिहास के पन्नों में रहेंगे.

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों को भी देश रहने का है मौलिक अधिकार: ओवैसी

शर्मा ने बताया, ‘इतिहासकार ये तय करेंगे कि अकबर को कहां जगह मिलेगी. सरकार ऐसे लोगों को चुनेगी’. दिनेश शर्मा ने कहा कि मैं चाहता हूं जो इतिहास है, वही रहे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE