naidu

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने मंगलवार को पाकिस्तानी कलाकारों के भारत में प्रतिबन्ध लगाने पर कहा कि  सरकार ने पाकिस्तानी कलाकारों के भारत में काम करने को लेकर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया है, लेकिन फिल्म निर्माताओं को उन्हें काम देते समय लोगों की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए.

उन्होंने कहा कि वह दूसरे देशों के कलाकारों के भारत में काम करने पर रोक लगाने के पक्ष में नहीं हैं, लेकिन जब पड़ोसी देश की ओर से परोक्ष युद्ध चलाया जा रहा हो तो फिल्म निर्माताओं को स्थिति को ध्यान में रखना चाहिए. उन्होंने कहा, लोगों का कहना है कि कला की कोई सीमा नहीं है. हां, कला की कोई सीमा नहीं होती लेकिन देशों की सीमाएं होती हैं. उसे ध्यान में रखा जाना चाहिए.

इसके अलावा उन्होंने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे की पाकिस्तानी कलाकारों को अपनी फिल्म में भूमिका देने वाले निर्माताओं से सेना कल्याण कोष में पांच करोड़ रुपये दान देने की मांग को गलत बताते हुए कहा कि केंद्र सरकार को मंजूर नहीं है.

इसके अलावा उन्होंने ठाकरे की इस मांग के पीछे महाराष्ट्र मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस की भूमिका को नकारते हुए कहा कि फड़णवीस ने निर्माताओं के सेना कोष में अंशदान देने के मामले में अपनी सहमति नहीं दी थी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें