35% reservation for women in government jobs

बिहार विधानसभा में ‘विधायक संकट’ झेल, खुद को साबित कर चुके बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी उत्तराखंड में चल रहे ‘राजनीतिक संकट’ पर कमेंट किया.

नीतीश कुमार ने इस पूरे संकट के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि BJP लगातार लोकतंत्र का मजाक उड़ा रही है.

उन्होंने BJP पर तंज कसते हुए कहा कि अगर BJP को यही करना है, तो संविधान से 10वीं अनुसूची को हटा देना चाहिए.

पटना में एक होली मिलन कार्यक्रम में भाग लेने के बाद नीतीश ने मीडिया से बात की और कहा,

और पढ़े -   मोदी के दलित मंत्री ने उठाई सवर्ण जातियों को आरक्षण देने की मांग
इस तरह से अगर दल-बदल राजनीति को प्रोत्साहित करना है, तो संविधान से 10वीं अनुसूची को हटा देना चाहिए. दल-बदल को लेकर बने कानून को भी खत्म कर देना चाहिए.

BJP पर उत्तराखंड में विधायकों को तोड़ने का आरोप लगाते हुए नीतीश ने कहा कि पार्टी आधारित संसदीय लोकतंत्र का इससे बड़ा कोई मजाक नहीं हो सकता. BJP संविधान के खिलाफ काम कर रही है, जिसे जायज नहीं ठहराया जा सकता.

और पढ़े -   सहारनपुर की आड़ में थी बीजेपी की और से मेरी हत्या कराने की साजिश: मायावती

उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड में सत्तारुढ़ कांग्रेस के 9 विधायक BJP के साथ मिल गए हैं. इसके बाद वहां के राज्यपाल ने मुख्यमंत्री हरीश रावत को 28 मार्च तक विधानसभा में बहुमत साबित करने का आदेश दिया है. (इनपुट IANS से)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE