nitish-kumar-meets-party-mps-mlas-over-sampark-yatra_2710140600261

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को कानपुर में संघ परिवार पर हमला करते हुए कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को गोरक्षा की शाखाएं चलानी चाहिए. राजस्थान की गोशालाओं में गाएं मरती हैं तो कोई तकलीफ नहीं होती और गुजरात में मरे जानवरों की चमड़ी उतारने वालों की पिटाई की जा रही है.

कानपुर से करीब 70 किलोमीटर दूर घाटमपुर में जेडीयू के कार्यकर्ता सम्मेलन को सबोधित करते हुए नितीश ने कहा,  गोरक्षा की बात करने वालों को यूपी की सड़कों पर आवारा घूम रहे गाय-बैल नहीं दिखते. इनसे रोड ऐक्सिडेंट की आशंकाएं बढ़ जाती हैं, लेकिन किसी को परवाह नहीं है.

और पढ़े -   महिला आरक्षण बिल: सोनिया की पीएम मोदी को चुनौती, लोकसभा में है बहुमत पास करवा कर दिखाए

उन्होंने आगे कहा,राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ गाय और नीलगाय की रक्षा की बात करता है. अगर गाय और नीलगाय से इतनी ही सहानुभूति रखते हैं, तो उन्हें संघ (आरएसएस) और भाजपा के नेता अपनी शाखाओं में रखें. इन्हें सड़कों पर न छोड़े, जिससे यह परेशानी का कारण बने.

उन्होंने बिहार की स्थिति का जिक्र करते हुए कहा कि बिहार में नीलगाय फसलें चौपट कर रही हैं. केंद्र की परमिशन के बाद बिहार सरकार इन्हें मार रही थी और मेनका गांधी ने बयान दे दिया. किसान की चिंता का कोई उपाय तो करना ही होगा. इतनी ही सहानुभूति है तो नीलगाय को भी शाखाओं में रखिए। वहां इन्हें खिलाइए-पिलाइए.

और पढ़े -   राजनाथ सिंह: रोहिंग्याओं को वापस लेने के लिए म्यांमार तैयार, अब आपत्ति क्यों ?

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE