जदयू प्रमुख और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति चुनाव में समर्थन देने का ऐलान किया है. उन्होंने इस बात की घोषणा बुधवार को पटना में पार्टी विधायकों की मीटिंग के दौरान की.

बीजेपी की और से रामनाथ कोविंद के नाम की घोषणा के बाद नीतीश कुमार ने व्यक्तिगत खुशी जाहिर की थी. जेडी (यू ) का रामनाथ कोविंद को समर्थन देने के ऐलान के साथ ही एनडीए उम्मीदवार की स्थिति और भी मजबूत हो गई है और अब उनके पक्ष में 50 फीसदी से ज्यादा वोट पड़ सकते हैं.

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों को भी देश रहने का है मौलिक अधिकार: ओवैसी

हालांकि सहयोगी आरजेडी ने रामनाथ कोविंद का समर्थन न करने का फैसला किया हुआ है. बुधवार को पार्टी की हाई लेवल मीटिंग के बाद जदयू विधायक रत्नेश सदा ने कहा कि मुलाकात के दौरान सीएम नीतीश ने कहा कि पहली बार बिहार के राज्यापल सीधे राष्ट्रपति बन रहे हैं. रामनाथ कोविंद अच्छे व्यक्ति हैं और हमलोगों को उनका समर्थन करना चाहिए.

और पढ़े -   मोदी के दलित मंत्री ने उठाई सवर्ण जातियों को आरक्षण देने की मांग

कांग्रेस की अगुवाई में 22 जून को इस मुद्दे पर विपक्ष की प्रस्तावित बैठक से पहले जदयू प्रमुख का यह कदम विपक्षी एकजुटता के लिए एक बहुत बड़ा झटका माना जा रहा है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE