हमेशा विवादित बयान देकर सुर्ख़ियों में रहने वाले गिरिराज सिंह ने फिर ब्यान एक बयान दिया है जिसमे उन्होंने आईआईटी पर निशाना साधते हुए कहा है की अगर समाज में 10 लोग गौमांस खाते है तो उनमे से 9 आई आई टी के है गिरिराज ने कहा कि मां बाप बच्चे को पढ़ाने के लिए पूरा जीवन दौड़-धूप करते रहते हैं. घर गृहस्थी से बेखबर होकर बेटे को आईआईटी में पढ़ाना चाहते हैं. वहीं पढ़ने लिखने के बाद उनका सामाजिक स्तर गिर गया है. अगर 10 पढ़े-लिखे लोग गौ मांस खाते हैं तो उनमें नौ आईआईटी के छात्र होते हैं. आजकल पढ़े लिखे होकर भी ये लोग समाज का स्तर गिराने का काम कर रहे हैं.

जनसंख्या नियंत्रण पर बोले गिरिराज

बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए बयान में कहा है कि देश में जनसंख्या नियंत्रण के लिए कानून बनना चाहिए. गिरिराज ने कहा कि सबको एक या ज्यादा से ज्यादा दो बच्चे होने चाहिए. उन्होंने कहा कि यदि इसका पालन कोई नहीं करता है तो उसके मतदान के अधिकार को खत्म कर देना चाहिए. गिरिराज सिंह देश की बढ़ती जनसंख्या के प्रश्न पर अपना जवाब दे रहे थे.

सभी धर्मों पर हो लागू

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण का कानून सभी धर्मों के लिए एक समान हो. उन्होंन कहा कि हिंदुओं की घटती जनसंख्या चिंता का विषय है. सभी धर्मों पर जनसंख्या नियंत्रण का कानून सामान रूप से लागू होना चाहिए और यह सभी धर्मों के लिए जरूरी है.

SHARE