shakil

मुसलमानों के बदतर हालात के पीछे कांग्रेस महासचिव शकील अहमद ने मुसलमानों में शिक्षा की कमी को बताया हैं. उन्होंने कहा कि शुरू से ही देश के मुसलमानों में शिक्षा की कमी रही है जिस वजह से उनकी स्थिति खराब है.  हालांकि अब उनमें शिक्षा को लेकर जागरूकता आ रही है.

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के मरहूम महासचिव मौलाना सैयद निजामुद्दीन की जीवनी के लोकार्पण पर कांग्रेस महासचिव ने आगे कहा कि देश में मुसलमान अपनी बदतर स्थिति के लिए खुद जिम्मेदार हंै क्योंकि उनमें शिक्षा की कमी है और यह कमी शुरू से ही रही है.

और पढ़े -   मोदी और आरएसएस चाहते हैं कि भारत अपनी आवाज ‘सरेंडर’ कर दे: राहुल गांधी

उन्होंने कहा, इस्लाम ने शिक्षा को 1400 साल पहले ही जरूरी बना दिया था.  इसलिए मुस्लिमों को शिक्षा जरूर लेनी चाहिए. शिक्षा से ही मुस्लिम हर मोर्चे पर अपना किरदार निभा सकते हैं.

उन्होंने इस बात पर ख़ुशी जताई कि अब मुस्लिमों में शिक्षा के लिए जागरूकता आ गई है. ऐसे में अब मुसलमानों को प्रतियोगी परीक्षाओं में सिर्फ बैठना नहीं बल्कि टॉप करना होना चहिए.अब  वक्त आ चुका है कि मुसलमान हर क्षेत्र में अपने आप को आगे रखें और अपने हक के लिए आवाज उठाएं.

और पढ़े -   हिन्दू संत-महंतों के लिए कांग्रेस ने किया सेल का गठन, पार्टी में ही उठने लगी विरोध की आवाज

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE