जम्मू: नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने बीजेपी के साथ सरकार बनाने की बात को खारिज कर दिया है। दरअसल, इससे पहले खबर आई थी कि नेशनल कॉन्फ्रेंस बीजेपी के साथ सरकार बनाने पर विचार के लिए तैयार है। इस खबर को जम्मू-कश्मीर में सरकार के लिए नए समीकरण के तौर पर देखा जा रहा था।

farooq-abdullah_650x400_61453021969फारूक अब्दुल्ला ने कहा, मैंने कभी नहीं कहा कि हम बीजेपी के साथ जा रहे हैं। मैंने कहा कि बीजेपी और पीडीपी को सरकार बनानी चाहिए क्योंकि वे चुने गए हैं। हमें जनता ने नहीं चुना इसलिए हम सरकार बनाने का निर्णय नहीं ले सकते।

और पढ़े -   अमित शाह ने हैदराबाद को क्या खाला का घर समझ रखा, दम है तो चुनाव लड़ कर दिखाए: ओवैसी

फारूक का बयान
जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने को लेकर शनिवार को फारूक अब्दुल्ला ने जम्मू में पत्रकारों से कहा कि अगर बीजेपी की तरफ से प्रस्ताव आता है तो नेशनल कॉन्फ्रेंस वर्किंग कमेटी की बैठक बुलाएगी और चर्चा करेगी। अगर इस तरह की परिस्थिति आती है तो नेशनल कॉन्फ्रेंस इस पर विचार करेगी। हमने दरवाजे बंद नहीं किए हैं। हमारे दरवाजे खुले हैं।

Screenshot_7उमर ने भी नकारा
वहीं जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भी उस ख़बर को गलत बताया है, जिसमें कहा जा रहा है कि अगर राज्य में सरकार बनाने के लिए बीजेपी की ओर से प्रस्ताव आएगा तो नेशनल कॉन्फ्रेंस यह नया सियासी समीकरण बना सकती है।  उमर ने ट्वीट करते हुए लिखा – ‘इसलिए मैं किसी काल्पनिक सवालों या स्थितियों के जवाब देना पसंद नहीं करता। जबरदस्ती तिल का ताड़ बना दिया जाता है।’

और पढ़े -   कश्मीरी युवक को जीप से बांधने के मामले में उमर अब्दुल्ला ने कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी को बताया 'तमाशा'

Screenshot_8सिर्फ विचार की बात
उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा है कि मेरे पिता का दिया बयान स्पष्ट है। किसी नतीजे पर पहुंचने से पहले हमें बयान को गंभीरता से सुनना चाहिए। उन्होंने बस इतना कहा कि अगर बीजेपी की तरफ से कोई प्रस्ताव आता है तो वर्किंग कमेटी की मीटिंग बुलाकर चर्चा के बाद ही कोई अंतिम फैसला लिया जाएगा और यह सबसे माकूल बयान है, जिसकी अपेक्षा की जाती है। उन्होंने किसी तरह के समर्थन और गठबंधन की बात नहीं कही है और बयान में सिर्फ विचार और चर्चा की बात है। (NDTV)

और पढ़े -   मायावती ने भीम आर्मी को बताया बीजेपी की उपज, कहा - बसपा का नहीं है कोई लेना-देना

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE