udhav1

शिव सेना ने सोमवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के सांसद उदयन राजे भोसले के नोटबंदी के उस बयान को अपना समर्थन दिया हैं जिसमे उन्होंने कहा था कि यदि नोटबंदी के बाद स्थिति में जल्द सुधार नहीं हुआ तो लोग बैंकों को लूटना शुरू कर देंगे.

शिव सेना ने पार्टी मुख पत्र ‘सामना’ के संपादकीय में कहा कि छत्रपति शिवाजी की 13वीं पीढ़ी के भोसले के रूप में  छत्रपति की मनोव्यथा ने एक आम आदमी की भावना को प्रदर्शित किया है. किसी वक्त उदयन राजे भाजपा में शामिल हुए थे और मंत्री भी बने थे, तो अब भाजपा उनका परित्याग नहीं कर सकती. हिम्मत है तो सरकार उदयन राजे के बयानों को चुनौती दे.

और पढ़े -   बगावती तेवर अपनाने पर अब शरद यादव पर गिरी गाज, राज्यसभा में पार्टी नेता के पद से हटाया

शिव सेना ने आगे कहा, “किसान बेमौत मर रहे हैं. अगर वे बैंकों को लूटते हैं तो सहकारी बैंकों पर प्रतिबंधों के कारण उन्हें कुछ भी नहीं मिलेगा. ठीक इसके विपरीत सरकार उन्हें फांसी पर लटका देगी और उनसे छुटकारा पा लेगी.”

शिवसेना ने पूछा, ब्रिटिश शासन के दौरान सतारा में भारतीयों ने बैंकों और सरकारी खजाने को लूट लिया था. सतारा से ही उदयन राजे ने सरकार को चेतावनी दी है कि लोग जीने के लिए बैंक लूट लेंगे. क्या सरकार इन लोगों पर गोलियां दागेगी?

और पढ़े -   राहुल ने मोदी पर आरएसएस के लोगो को हर संस्थान में डालने और झूठ बोलने का लगाया आरोप

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE