उन्‍होंने कहा कि पीएम की सऊदी यात्रा से कई महत्‍वपूर्ण उपलब्धियां हासिल हुई हैं। इनमें दोनों देशों के मिलकर आतंक से लड़ने पर सहमति बनी है।

केंद्रीय अल्‍पसंख्‍यक मंत्री नजमा हेपतुल्‍ला का मानना है कि वर्ल्‍ड सूफी फोरम में पीएम मोदी के भाषण और बाद में उनके सऊदी अरब के दौरे के चलते असम में भाजपा को फायदा हुआ है। पीएम मोदी के सऊदी अरब दौरे को लेकर बुलाई गर्इ पत्रकार वार्ता के दौरान हेपतुल्‍ला ने ऐसा कहा। जब उनसे पूछा गया कि पीएम मोदी के वर्ल्‍ड सूफी फोरम में भाषण और सऊदी अरब दौरे से क्‍या भाजपा को फायदा हुआ तो हेपतुल्‍ला ने कहा,’प्रधानमंत्री के पास जो भी जाता वे उसके कार्यक्रम में जाते हैं। वर्ल्‍ड सूफी फोरम के आयोजक उनके पास गए थे। इससे असम और पश्चिम बंगाल में अच्‍छा संदेश गया।’ बता दें कि असम में प्रचार के दौरान पीएम मोदी ने सऊदी अरब की यात्रा का कई बार जिक्र किया था।

वर्ल्‍ड सूफी फोरम का आयोजन ऑल इंडिया उलेमा मशइक बोर्ड ने किया था। यह बोर्ड छह साल पहले उस समय सुर्खियों में आया था जब उन्‍होंने भारत में वहाबियों के बढ़ते प्रभाव के खिलाफ मोर्चा निकाला था। सूफी फोरम में शामिल होने के बाद पीएम मोदी सऊदी अरब गए थे वहां पर उन्‍हें वहां के सबसे बड़े नागरिक सम्‍मान से नवाजा गया था। हेपतुल्‍ला ने दावा किया कि इन दोनों घटनाओं में कोई विरोधाभाष नहीं है और जो भी इस सवाल उठाता है वह केवल समाज को बांटने का काम कर रहा है। उन्‍होंने कहा कि पीएम की सऊदी यात्रा से कई महत्‍वपूर्ण उपलब्धियां हासिल हुई हैं। इनमें दोनों देशों के मिलकर आतंक से लड़ने पर सहमति बनी है। साथ ही भारत के हज कोटे में 20 प्रतिशत की कटौती करने का मुद्दा भी उठाया है।

नजमा ने कहा,’ मैंने पीएम को हज यात्रियों की कटौती को लेकर नोट दिया था। मुझे विश्‍वास है कि इस पर जरूर काम हुआ होगा। आधिकारिक रूप से सूचना मिलते ही इसकी घोषणा की जाएगी। जो लोग उनकी इस यात्रा का विरोध कर रहे हैं वे इसका महत्‍व नहीं समझते।’ 2017 से हज यात्रा का जिम्‍मा विदेश मंत्रालय से अल्‍पसंख्‍यक मंत्रालय को दिया जाएगा। जब उनसे पूछा गया कि क्‍या यह बेहतर होता कि अल्‍पसंख्‍यक मंत्रालय भी पीएम मोदी के डेलिगेशन का हिस्‍सा होता तो नजमा ने कहा,’वे किसी को नहीं लेकर गए। इसकी कहां जरूरत है। प्रधानमंत्री की आवाज ही मेरी आवाज है।’ (Jansatta.com)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE