नई दिल्ली: AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने दिल्ली पुलिस द्वारा आत्तंकवाद के नाम पर की गयी गिरफ़्तारी पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुवे कहा कि बीजेपी और आरएसएस आतंक के नाम पर मुस्लिम लडको पर अत्याचार कर रही हैं उन्होंने कहा कि जिन 13 लडको को यूपी और दिल्ली से गिरफ्तार किया हैं उनकी गिरफ्तारी खुले तोर पर मानवाधिकार का उलंघन हैं. एक साजिश के तहत मुसलमनो को गिरफ्तार किया जाता हैं और कुछ ही देर में नेशनल मीडिया द्वारा उन्हें आतंकवादी घोषित कर दिया जाता हैं.

और पढ़े -   गोरखपुर में बच्चो की मौत पर फूटा कुमार विश्वास का आक्रोश कहा, मंदिर मस्जिद को जिन्दा रखने वाले जिन्दा भविष्य को रहे मार

पुलिस केवल संदेह के आधार पर लडको को गिरफ्तार कर जेलों में डाल देती हैं. सालो बाद अदालतो द्वारा उन्हें बाइज्जत बरी किया जाता हैं. उन्होंने कहा कि मुफ़्ती अब्दुल बशर, तारिक कासमी सहित कई लड़के जेलों में बंद हैं जहाँ उनको कोई हाल पूछने वाला नहीं हैं. यदि पुलिस के पास ठोस सबुत हैं तो उन्हें अदालत में पेश करे.

और पढ़े -   गोरखपुर हादसे पर बोले अमित शाह: देश में पहली बार ऐसा नहीं हुआ, जन्माष्टमी का त्योहार मनाएंगे

ओवैसी ने मीडिया की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाया उन्होंने कहा कि मीडिया ने जिस तरह इन लडको की गिरफ़्तारी को दिखया उससे स्पष्ट हो जाता हैं कि मीडिया का एक हिस्स्सा आरएसएस और बीजेपी के हाथों में कठपुतली बना हुआ हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE