ani
ANI

शनिवार को समाजवादी पार्टी से सांसद मुनव्वर सलीम के पीए को दिल्ली पुलिस ने जासूसी मामले में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था. लेकिन पूछताछ के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया हैं.

इस बारें में अपराध शाखा के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना हैं कि सांसद का पीए फरहत पाकिस्तान उच्चायोग के कर्मी महमूद अख्तर के संपर्क में था. दिल्ली पुलिस इस मामले से जुड़े उन अन्य लोगों को भी पकड़ने की कोशिश कर रही है.

और पढ़े -   स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में कुर्सी न मिलने पर भडके बीजेपी विधायाक बोले, मैं अब भी गुलाम

वहीँ सपा सांसद मुनव्वर सलीम ने फरहत की गिरफ्तारी पर कहा है कि उनका इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है और कि अगर उनके इस सब मे शामिल होने का जरा सा भी सबूत पुलिस ने दिया तो वे परिवार समेत आत्महत्या कर लेंगे. फरहत के पकड़ जाने पर मुनव्वर टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा कि उनकी जिंदगी खुली किताब है, कभी किसी से कुछ नहीं छुपाया लेकिन एक गलत आदमी एक साल से उनके साथ था इसका उन्हें दुख है.

और पढ़े -   शरद यादव के साथ 20 विधायक, कभी भी गिरा सकते है नितीश सरकार

गौरतलब रहें कि पाकिस्तानी उच्चायोग के अधिकारी महमूद अख्तर को 26 अक्तूबर को गोपनीय दस्तावेज लेते हुए पकड़ा गया था. हालांकि डिप्लोमेटिक इम्युनिटी होने के कारण उसे छोड़ना पड़ा था. हालांकि विदेश मंत्रालय ने उसे भारत छोड़ने का आदेश दे दिया था.

अख्तर के साथ दो अन्य व्यक्ति मौलाना रमजान और सुभाष जांगीड भी थे जो राजस्थान के नागौर के रहने वाले हैं. उन दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है. एक अन्य आरोपी शोएब को जोधपुर में हिरासत में लिया गया. पुलिस उसे दिल्ली ले कर आई जहां उसे गिरफ्तार किया गया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE