नोटबंदी को लेकर मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया है.

येचुरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नोटबंदी से भ्रष्टाचार, कालाधन और आतंकवाद के खत्म होने की बात कह रहे थे, लेकिन यह सभी इस आर्थिक कदम को उठाए जाने के बाद बढ़ रहे हैं. माकपा नेता ने सोशल मीडिया पर कहा, “नोटबंदी के बाद, भ्रष्टाचार, कालाधन और आतंकवाद तीनों के खत्म होने का दावा मोदी ने किया था, लेकिन आज नोटबंदी के बाद यह और मजबूती के साथ बढ़ रहे हैं

और पढ़े -   पोस्टर जारी कर सभी विपक्षी दलों से एकजुट होने की अपील, मायावती और अखिलेश दिखे साथ साथ

उन्होंने कहा, “छह महीने बीतने के बाद भी अभी तक कोई आंकड़ा नहीं है कि कितना पुराना नोट प्रणाली में वापस आया. येचुरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 8 नवंबर के 500 व 1000 रुपये के नोटबंदी के कदम को आर्थिक आपदा बताया.

उन्होंने कहा, “सरकार ने बड़ी मछलियों-बैंक ऋण के बकाएदारों को छोड़ दिया और भारत की अनौपचारिक अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया जो करीब दो तिहाई भारतीयों को रोजगार देती है और हमारे जीडीपी में आधा से ज्यादा का योगदान देती है.

और पढ़े -   ट्रिपल तलाक पर कानून लाने से पहले सभी दलों से करेंगे चर्चा: मुख्तार अब्बास नकवी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE