अहमदाबाद के महात्मा गांधी के मशहूर साबरमती आश्रम के 100 वर्ष पूरे होने पर दिए अपने संबोधन में पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा गौरक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों के खिलाफ दिए बयान पर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री को आड़े हाथ लिया है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमन्त्री कारवाई करने के बजाय सिर्फ बाते करते है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि ‘पीएम बस बातें करना जानते हैं. उन्होंने दो बार इस बारे में बोला है लेकिन कभी हुआ कुछ नहीं क्योंकि इन गौरक्षकों के खिलाफ कभी कार्रवाई नहीं की गई, इन्हें बीजेपी और संघ की तरफ से प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से समर्थन मिलता है.’

उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि बस बातें करने से कुछ नहीं होगा. गौरक्षा स्वीकार नहीं है तो अभी तक राजस्थान में बीजेपी की सरकार होते हुए भी पहलू खां के 3 हत्यारों को हिरासत में क्यों नहीं लिया गया है?

वहीं बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी गौरक्षा के नाम पर हिंसा के मामले में ट्टीट करते हुए लिखा कि, ‘गौ रक्षा के नाम पर हो रही हत्याओं की हम कड़ी निंदा करते हैं. इन्हें अभी ही रोकना होगा. सिर्फ बातों से काम नहीं चलेगा.’

और पढ़े -   संघ पर राहुल गाँधी के वार से बोखलाई बीजेपी, संघ नेता भी हुए लाल

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE