पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने केंद्र सरकार और पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उनकी नीतियों को धूमिल बताया है. उन्होंने कहा कि सरकार के रवैये की वजह जनता का भरोसा हटा है.

‘इंडिया टुडे’ से खास बातचीत में मनमोहन सिंह ने देश की अर्थव्यवस्था, पाकिस्तान से रिश्ते और देश की जनता के हाल पर खुलकर अपनी राय दी.

और पढ़े -   मोदी के दलित मंत्री ने उठाई सवर्ण जातियों को आरक्षण देने की मांग

‘बेहद कमजोर है सरकार का काम’
मोदी सरकार के अब तक के काम-काज पर उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था बेहद कमजोर स्थिति में है, यह और मजबूत हो सकती थी. उन्होंने यह भी कहा कि देश में निवेश को बढ़ाने के बेहतर मौके हैं. देश में करीब 32 फीसदी तक निवेश में कमी आई है. सरकार अगर सही कदम उठाए तो निवेश बढ़ेगा. उन्होंने कहा कि यूपीए की सत्ता के दौरान निवेश करीब 35 फीसदी तक बढ़ा था.

और पढ़े -   टोल मांगने पर प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष का जवाब, मैं सांसद हूँ और टोल फ्री भी

सरकार में है आत्मविश्वास की कमी
पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार की हालत देखकर लगता है कि उसमें आत्मविश्वास की कमी है. तेल की कीमतें कभी स्थिर नहीं रहेंगे, लेकिन सरकार ने अपने कार्यकाल का दो साल गवां दिया और जनता को यह भरोसा भी नहीं दिला पाई कि अर्थव्यवस्था बेहतर हो रही है. (Aaj Tak)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE