kapil

500 और 1000 के नोट बंदी को लेकर कांग्रेस ने एक बार फिर मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि केंद्र ने बिना किसी तैयारी के इस योजना को लागू किया, जिसकी वजह से आम लोगों को दिक्कत हो रही है.

गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेस कर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि ऐसे हालात में पीएम को देश में होना चाहिए था लेकिन वो जापान में हैं. उन्होंने कहा कि बैंकों में कतार है, आम आदमी लाचार है, पीएम जिम्मेदार है. मोदी को न तो यह मालूम है कि घर का खर्च कैसे चलता है और न ही वे यह जानते हैं कब बाजार में आटे, दाल और चीनी का क्या भाव है?

और पढ़े -   गायों को कटने के लिए क़तर भेजा जा रहा, अब कहाँ है गौ माता के भक्त: आजम खान

सिब्बल ने कहा कि ये निर्णय जल्दबाजी में लिया गया. देश के साथ मजाक हो रहा है. एटीएम काफी नहीं हैं. ये निर्णय चुनावों को ध्यान में रखकर लिया गया है. सिब्बल ने कहा कि सरकार कालेधन की व्यवस्था पर रोक लगाने की कोशिश कर रही है, कोई भी राजनीतिक दल इस बात का विरोध नहीं करता. हालांकि, ऐसे फैसला तब करने चाहिए थे जब सारी व्यवस्था सही हो और आम जनता को तकलीफ न हो.

और पढ़े -   साक्षी महाराज ने विपक्ष के नेताओं को बताया वेश्याओं से भी बदतर, मचा बवाल

उन्होंने कहा, ‘अगर’अकाउंट मेरा है और पैसा मेरा है तो मुझे लाइन में क्यों लगना चाहिए? क्या यह पैसा मोदी जी का है? क्या यह पैसा बीजेपी या सरकार का है? यह पैसा तो आम जनता का है जो बैंकों में जमा है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE