लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने पाकिस्तान पर नरेन्द्र मोदी सरकार की नीति को ‘लचर’ और ‘अस्थिरता’ का शिकार करार देते हुए आज कहा कि इस वजह से दोनो मुल्कों की सरहद पर हालत पहले की ही तरह असुरक्षित बनी हुई है।

मायावती ने यहां आयोजित पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों की विशेष बैठक में उत्तर प्रदेश के साथ साथ देश के मौजूदा राजनीतिक हालात पर चर्चा करते हुए कहा कि केन्द्र में नरेन्द्र मोदी सरकार की खासकर पाकिस्तान के संबंध में नीति काफी लचर और अस्थिरता का शिकार नजर आती है, जिसके कारण भारत पाक की सीमाओं पर हालात बेहतर नहीं होकर पहले की तरह ही असुरक्षित बने हुए हैं।

और पढ़े -   वेंकैया नायडू ने कहा - हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा, थरूर बोले - जबरदस्ती थोपेंगे

उन्होंने कहा कि लोगों को ऐसा लगा था कि भाजपा के शासनकाल में खासकर पाकिस्तान के साथ संबंध में भारत की नीति में बदलाव के परिणामस्वरूप स्थिरता आयेगी, लेकिन मोदी के शासनकाल में भी पाकिस्तान को लेकर उसकी नीतियां लगातार बदलती रही हंै और कोई भी नीति प्रभावी होती नजर नहीं आ रही है, जिससे देश में उदासीनता का माहौल बना हुआ है।

और पढ़े -   कोविंद के समर्थन पर बोले गुलाम नबी आजाद - वो कट्टर भाजपाई हैं, ऐसे में समर्थन संभव नहीं

बसपा प्रमुख ने कहा कि वर्ष 2014 मे लोकसभा चुनाव के दौरान और केन्द्र में भाजपा नीत सरकार बनने के बाद भी भाजपा के नेता तथा मंत्री लगातार उत्तेजना फैलाने वाली बयानबाजी करते रहे। भाजपा नेताओं पर उच्चतम न्यायालय के आदेश की धज्जियां उडाकर अयोध्या में मनमानी करने का धब्बा लगा हुआ है।

मायावती ने उत्तर प्रदेश की सपा सरकार की आलोचना करते हुए आरोप लगाया कि जनसेवा, जनहित और जनकल्याण के साथ-साथ अपराध-नियंत्रण और अच्छी कानून- व्यवस्था कभी इस सरकार की प्राथमिकता नहीं रही। इसी कारण इनके ‘‘जनविरोधी कार्यकलापों’’ से पूरे प्रदेश में हर स्तर पर एक प्रकार से ‘‘अराजकता का माहौल’’ है। साभार: आई बी एन लाइव

और पढ़े -   किसानों की कर्जमाफ़ी पर नायडू का शर्मनाक बयान - देश में फैशन बन चूका है कर्ज माफी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE