digvijay-s_650_021416094806

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह रविवार को जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में सेना बेस कैंप पर हुए आतंकी हमले में मसूद अजहर के संगठन जैश-ए- मोहम्मद का नाम सामने आने के बाद भारतीय जनता पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की अगुवाई वाली एनडीए सरकार द्वारा  जैश सरगना मसूद अजहर की रिहाई का खामियाजा देश भुगत रहा है.

और पढ़े -   कोविंद के समर्थन पर बोले लालू - 'आरएसएस की राह पर चल दिए अब नीतीश कुमार'

दिग्विजय सिंह ने कहा कि 1999 में इंडियन एयरलाइंस की फ्लाइट आईसी-814 हाईजैक में मसूद अजहर को छोड़कर पूर्ववर्ती एनडीए सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता किया था. उन्होंने आगे कहा कि एनडीए सरकार ने मसूद की रिहाई के साथ ही ये साफ कर दिया था कि वो आतंकवाद को कुचलने के लिए कितने गंभीर हैं.

दिग्विजय सिंह ने सोमवार को एक के बाद एक कई ट्वीट किए जिसमे उन्होंने कहा कि ये सरकार बड़ी-बड़ी बातें करती है, लेकिन जो कुछ हो रहा है कि वो सरकार की नाकामी है. उन्होंने पाकिस्तान को अलग थलग करने के लिए उस पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाने को कहा.  अथ ही उन्होंने आगे लिखा.  हमले के पीछे मसूद अजहर के जैश-ए-मोहम्मद का हाथ है. निश्चित तौर पर इसमें पाकिस्तान प्रशासन की पूरी मिलीभगत है.”

और पढ़े -   मुसलमानों के प्रति हो रही हिंसा के खिलाफ जंतर मंतर पर इकठ्ठा हुए हजारो लोग, देश के कई और शहरो में भी हुए विरोध प्रदर्शन

उन्होंने आगे कहा, “हमें नियंत्रण रेखा के पास मौजूद सेना के शिविर की सुरक्षा में इसकी नाकामी की भी पड़ताल करनी चाहिए.”


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE