बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री मांझी बोले- 'कई विधायक नहीं छोड़ सकते शराब'

दरभंगा: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के प्रमुख जीतन राम मांझी ने गुरुवार को राज्य में शुक्रवार से होने वाली शराबबंदी को दिखावा करार देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पूर्ण शराबबंदी क्यों नहीं लागू करते। उन्होंने कहा कि नई शराब नीति में कई खामियां हैं तथा शपथ लेने वालों में कई माननीय तो ऐसे हैं, जो कभी भी शराब नहीं छोड़ सकते।

दरभंगा में पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा, ‘नीतीश कुमार राज्य में पूर्ण शराबबंदी क्यों नहीं लागू करते? इससे साफ होता है कि वह किसी के दवाब में हैं।’ विधानसभा में विधायकों ने शराब नहीं पीने की शपथ ली है, इस पर तंज कसते हुए मांझी ने कहा कि यह सब दिखावा मात्र है। शपथ लेने वालों में कई माननीय तो ऐसे हैं जो कभी शराब नहीं छोड़ सकते।

उन्होंने कहा कि शराबबंदी से बेरोजगारी बढ़ेगी। दूसरी बात कि अब गरीबों को शराब पीने के लिए ज्यादा पैसे खर्च करने होंगे, जिससे उनकी आर्थिक हालत और कमजोर होगी। पूर्व मुख्यमंत्री ने खुद को शराबबंदी का पक्षधर बताते हुए कहा, ‘मैं पूर्ण शराबबंदी के पक्ष में हूं। नई शराब नीति में पुलिस गरीबों को पकड़कर उनके पास शराब होने की झूठे आरोप लगाकर उन्हें जेल भेज देगी।’

उल्लेखनीय है कि बिहार विधानसभा के दोनों सदनों में बुधवार को ‘बिहार उत्पाद विधेयक 2016’ सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया। विधानसभा में सदस्यों ने शराब नहीं पीने की शपथ ली।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें