पशु बाजारों से मीट बिक्री के लिए जानवरों की खरीद-फरोख्त पर लगाई गई केंद्र सरकार की रोक का देश के विभिन्न हिस्सों में विरोध हो रहा है. ऐसे में अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने स्पष्ट कर दिया कि वे बैन के पूरी तरह खिलाफ हैं.

उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा प्रतिबंध लगाने को असंवैधानिक करार देते हुए कहा कि केंद्र सरकार किसी के भी खाने-पीने के मामले में हस्तक्षेप नहीं कर सकती. हम इस फैसले को चुनौती देंगे. उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि  ‘लोग क्या खाएं, क्या नहीं? ये बताना सरकार का काम नहीं है.’ उन्होंने पूछा कि क्या केंद्र सरकार चाहती है कि लोग गायों को ताले में बंद करके रखें?

और पढ़े -   गुजरात में बीजेपी विधायक की मांग, हिन्दू इलाके में मुस्लिमो को घर खरीदने की नही मिले इजाजत

ममता बनर्जी ने कहा कि मैं सभी धर्मनिर्पेक्ष पार्टियों से भी आवाह्न करती हूं कि वो सरकार के इस फैसले के खिलाफ खड़ी हों. उन्होंने कहा, अब सरकार गाय के दूध को भी बंद करने की बात कह सकती है. उन्होंने कहा कि हम भी गाय को अपनी माता मानते हैं, लेकिन इस मामले को सुलझाने का ये सही तरीका नहीं है.

और पढ़े -   ओवैसी को हराने के लिए अमित शाह ने शुरू की बड़ी तैयारी, AIMIM विरोधी लहर होगी शुरू

ममता बनर्जी ने कहा कि केन्द्र सरकार का यह निर्णय पूरी तरह असंवैधानिक है. पश्चिम बंगाल इसे मानने के लिए बाध्य नहीं है. सीएम बनर्जी ने कहा कि पशुओं की खरीद-फरोख्त राज्यों का मामला है, इसमें केन्द्र सरकार का दखल देना गलत है. ममता बनर्जी ने कहा कि पेड़-पौधों में भी जीवन होता है तो क्या उन्हें भी खाना बंद कर देना चाहिए?

और पढ़े -   ट्रिपल तलाक पर कानून लाने से पहले सभी दलों से करेंगे चर्चा: मुख्तार अब्बास नकवी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE