mamata-banerjee

कोलकाता | 500 और 1000 के नोट बंद करने के बाद , पूरे देश में अफरा तफरी का माहौल है. कालेधन और भ्रष्टाचार पर चोट करने के मकसद से लिए गए इस फैसले से देश के आम आदमी को भारी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है. छोटे कारोबारी से लेकर एक मजदूर तक चिंतिंत है. चूँकि आज बैंक बंद है इसलिए जिन मजदूरो के पास केवल एक या दो 500 के नोट है, उनके लिए आज की रोटी का इंतजाम करना , पहाड़ चढ़ने के बराबर है.

इन्ही दिक्कतों को समझते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर निशाना साधा है. ममता बनर्जी ने मोदी के 500 और 1000 के नोट बंद करने के फैसले को निर्मम करार देते हुए कहा की मोदी का यह निर्णय निर्मम और बिना सोचे समझे लिया गया फैसला है. मोदी के इस फैसले से देश भर में वित्तीय दिक्कत पैदा होने वाली है.

ममता बनर्जी ने एक बाद एक किये ट्वीट में मोदी की अलोचना करने हुए लिखा की मोदी के इस फैसले से देश में आर्थिक आपातकाल लग गया है. मैं उन छोटे व्यापारी , आम आदमी और मजदूरो के लिए चिंतित हूँ. वो कल सामान कैसे खरीदेंगे. इस आपदा के लिए मोदी जिम्मेदार है. मैं खुद कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ हूँ लेकिन मोदी के इस फैसले से देश के आम लोग मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा.

ममता बनर्जी ने मोदी से इस फैसले को वापिस लेने की मांग करते हुए कहा की अपने इस फैसले के जरिये मोदी अपनी नाकामी छुपाने का प्रयास कर रहे है. उन्होंने चुनाव के दौरान विदेशो से काला धन लाने का वादा किया था जो वो पूरा नही कर पाए. अपनी इसी नाकामी को छुपाने के लिए मोदी नाटक कर रहे है. मैं मोदी जी से अपील करती हूँ की इस फैसले को जल्द वापस लिया जाए.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें