प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक चुनावी सभा में शुक्रवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला था। पीएम के हमले के एक दिन बाद ममता बनर्जी ने कहा कि पीएम मोदी के शब्द उनके पद की गरिमा के अनुरूप नहीं हैं। यही नहीं उन्होंने पीएम मोदी के ही स्टाइल में बीजेपी का फुलफॉर्म बताते हुए पार्टी को ‘भयानक जाली पार्टी’ करार दिया और कहा कि हिम्मत है तो उन्हें गिरफ्तार करें।

ममता ने बीजेपी को बताया 'भयानक जाली पार्टी', पीएम से कहा हिम्मत है तो गिरफ्तार करेंआसनसोल में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए ‘दीदी’ ने कहा, ‘मैं सिर ऊंचा करके लड़ती हूं। मैंने आजतक किसी के सामने अपना सिर नहीं झुकाया। अगर प्रधानमंत्री की ऐसी चाहत है तो वे मुझे गिरफ्तार करवा दें, मुझे परवाह नहीं है।’ बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने भी आसानसोल के इसी इलाके में 1 रैली की थी।

ममता बनर्जी ने कहा कि वे प्रधानमंत्री की ‘घरेलू नौकर’ नहीं हैं। यही नहीं उन्होंने प्रधानमंत्री पर आरएसएस के कार्यकर्ता की तरह बोलने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा, ‘बड़े-बड़े भाषण देना आसान होता है, लेकिन लोगों के लिए काम करना मुश्किल। प्रधानमंत्री तो स्वयं सेवक साखा के कार्यकर्ता की तरह बोलते हैं।’

प्रधानमंत्री द्वारा उन पर हमला किए जाने पर दुख प्रकट हुए ममता बनर्जी ने कहा कि कोई भी जब जनता के बीच जाता है तो उसे पूरी तैयारी के साथ जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘मोदी जी बंगाल आते हैं तो वे मुझ पर व्यक्तिगत हमले करते हैं, जो बहुत ही बुरे होते हैं। लेकिन क्योंकि प्रधानमंत्री मुझ पर हमले करते हैं सिर्फ इसलिए मैं उन पर हमले नहीं करूंगी।’

ममता बनर्जी ने कहा, ‘मैं भले ही किसी का राजनीतिक तौर पर विरोध करती हूं, लेकिन किसी पर व्यक्तिगत हमले नहीं करती। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीपीआई-एम नेता बुद्धदेव भट्टाचार्जी की राजनीति को पसंद नहीं करती, लेकिन उनके खिलाफ व्यक्तिगत हमले में शामिल नहीं होती। (khabar.ndtv.com)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें