शिव सेना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ इवेंट का जमकर मजाक उड़ाया है। सेना ने किसानों की आत्महत्या को लेकर मोदी पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि उन्होंने महाराष्ट्र की भलाई के लिए कुछ भी नहीं किया है।
शिव सेना ने अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में पीएम मोदी और मेक इन इंडिया पर कड़वा तंज किया है। शिव सेना ने कहा है कि प्रधानमंत्री को चाहिए कि वह महाराष्ट्र के किसानों को भी मेक इन इंडिया का हिस्सा बनाएं। शिव सेना ने संपादकीय में कहा,’मुंबई की तर्ज पर ही विदर्भ और मराठवाड़ा को भी विकास का अजेंडा बनाया जाना चाहिए। विदर्भ में एक साल के भीतर 1,328 किसाज फसल की बर्बादी और कर्ज की वजह से खुदकुशी कर चुके हैं। इतना ही नहीं, मराठवाड़ा में एक महीने में 89 किसान अपनी जानें दे चुके हैं।’

सामना के संपादकीय में कहा गया है कि यह मोदी के मेक इन इंडिया का दूसरा पहलू है। शिव सेना ने मोदी सरकार से अपील की है कि वह मेक इन इंडिया की तर्ज पर ‘मेक इन महाराष्ट्र’ स्कीम के बारे में सोचे। सामना में कहा गया कि जैतापुर न्यूक्लियर प्लांट कोकण इलाके में अनगिनत किसानों की जिंदगी तबाह कर देगा और शिव सेना राज्य में ऐसे ‘विनाशकारी’ विकास का पुरजोर विरोध करती है।

शिव सेना ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का मजाक उड़ाने के अंदाज में कहा कि महाराष्ट्र सरकार अब तक निवेश आकर्षित करने में नाकामयाब रही है। सामना के संपादकीय में कहा गया है कि महाराष्ट्र को उतना निवेश नहीं मिला है जिससे मुख्यमंत्री की विदेश यात्रा का खर्च निकल जाए। पीएम मोदी ने शनिवार को मुंबई में मेक इन इंडिया वीक का उद्धाटन किया था। (नवभारत टाइम्स)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें