कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के बुरे प्रदर्शन को लेकर अपनी ही पार्टी को आड़े हाथों लेते हुवे कहा है कि चुनाव परिणाम निराश करने वाले हैं। लेकिन अब मंथन करने का समय निकल चुका है। भारतीय राजनीति में वापसी करने के लिए पार्टी को अब मेजर सर्जरी करने की जरूरत है।

और पढ़े -   मायावती ने भीम आर्मी को बताया बीजेपी की उपज, कहा - बसपा का नहीं है कोई लेना-देना

उन्होंने आगे कहा, ‘चुनावी नतीजे कांग्रेस के लिए बहुत उत्साहवर्धक नहीं हैं, लेकिन लोकतंत्र में हमें जनता के फैसले का सम्मान करना होता है। दो महत्वपूर्ण राज्य असम और केरल कांग्रेस ने गंवा दिए। तमिलनाडु तथा पश्चिम बंगाल में भी हमारा गठबंधन कुछ नहीं कर पाया। असम में हमें सत्ता विरोधी लहर का सामना करना पड़ा और अंतिम क्षणों में हमारे एक वरिष्ठ नेता बीजेपी में चले गए।’

और पढ़े -   अमित शाह ने हैदराबाद को क्या खाला का घर समझ रखा, दम है तो चुनाव लड़ कर दिखाए: ओवैसी

गोरतलब रहे कि पांच राज्यों में से कांग्रेस की असम और केरला में सरकार थी। इन दोनों जगहों पर कांग्रेस को बुरी हार का सामना करना पड़ा है. कांग्रेस अब केवल उत्तराखंड, कर्नाटक और नार्थईस्ट के कुछ छोटे राज्यों तक ही सीमित होकर रह गई है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE