396690-tejaswi

मुंबई – महाराष्ट्र के कुछ राजनीतिक दलों ने राज ठाकरे द्वारा महाराष्ट्र के अप्रवासियों को लेकर दिए गए भड़काऊ भाषण के लिए, ठाकरे को सजा देने की मांग की है। राज ठाकरे के बयान को लेकर महाराष्ट्र ही नहीं बल्कि पूरे देश के नेताओं ने रोष जताया है।

गौरतलब है कि एमएनएस के 10वें स्थापना दिवस के मौके पर पार्टी समर्थकों को संबोधित करते हुए ठाकरे ने कहा था, ‘यदि नए परमिट वाले ऐसे ऑटोरिक्शा को सड़कों पर चलते देख लिया तो भीतर बैठे लोगों को बाहर आने को बोला जाएगा और ऑटो को आग लगा दी जाएगी। चूंकि राज्य का परिवहन विभाग शिवसेना के पास है तो मैं पूछना चाहता हूं कि सौदे में उसे कितने पैसे मिल रहे हैं।’ राज ठाकरे ने दावा किया था कि करीब 70 फीसदी नए परमिट गैर-मराठियों को दिए गए हैं। ठाकरे ने मांग की थी कि सिर्फ ‘माटी के लालों’ को ही लाइसेंस दिए जाने चाहिए।

राज ठाकरे के इस बयान पर लालू यादव के पुत्र और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा, ‘मैं राज ठाकरे को बताना चाहता हूं कि महाराष्ट्र किसी के बाप की जागीर नहीं है। महाराष्ट्र और यह देश सभी के लिए है।’ वहीं दूसरी ओर विपक्षी पार्टियों ने कहा कि राज ठाकरे पर अपराधिक मामला दर्ज होना चाहिए। कांग्रेस प्रवक्ता अल-नसीर जकारिया ने कहा, ‘यह काफी हैरानी की बात है कि कोई व्यक्ति ऐसा घृणित भाषण देता है फिर भी उसे आजाद घूमने दिया जा रहा है।’

साल 2014 में महाराष्ट्र में हुए लोकसभा चुनाव में राज ठाकरे की पार्टी में सिर्फ एक सीट मिली थी। वहीं उसके पहले उन्होंने महाराष्ट्र की 13 सीटों पर कब्जा किया था। साल 2008 से ठाकरे के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के 56 मामलों के साथ ही अन्य विषयों को लेकर भी 50 मामले दर्ज हुए हैं।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें