आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद ने रोहित वेमुला आत्महत्या मामले में केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्री स्मृति ईरानी पर करारा वार किया है. लोकसभा में मंत्री के तीखे तेवर पर निशाना साधते हुए लालू ने कहा कि असल में ऐसा कर स्मृति अपनी नाकामयाबियों को छुपा रही हैं. उन्होंने आरोप लगाया है कि शैक्षणिक संस्थानों में संघ की विचारधारा थोपने की कोशिश की जा रही है.

मंत्री के तौर पर छिपा रहीं नाकामयाबी
लालू यादव ने कहा कि स्मृति ईरानी एचआरडी मंत्री के तौर पर अपनी नाकामयाबी छिपाने की कोशिश कर रही हैं. पूरे देश ने देखा था कि हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमुला की खुदकुशी के बाद डॉक्टर मौके पर मौजूद थे. गौरतलब है कि लोकसभा में विपक्ष के सवालों का जवाब देते हुए स्मृति ने कहा था कि रोहित की मौत के बाद डॉक्टरों और पुलिस को भी उसके शव के नजदीक नहीं आने दिया गया था.

RSS की विचारधारा थोपने की कोशिश
लालू यादव ने यहां तक कहा कि स्मृति ईरानी राष्ट्रवाद के नाम पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की विचारधारा शैक्षणिक संस्थानों पर थोप रही हैं. लालू यादव ने कहा कि हरियाणा में आरक्षण की मांग पर शुरू हुए जाट आंदोलन के दौरान मुरुथल के पास 10 महिलाओं के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले में बीजेपी सरकार कुछ नहीं कर रही है.

JNU पर शक के घेरे में सरकार की नीयत
जेएनयू मामले की चर्चा करते हुए लालू यादव ने कहा की जेएनयू पर केंद्र सरकार की नीयत साफ नहीं है. हाल ही में एक बीजेपी विधायक द्वारा जेएनयू कैंपस में कंडोम पाए जाने की बात कहना चौंकाने वाली है. केंद्र अपने हर मोर्चे पर असफल रही है. स्वच्छ भारत अभियान के दौरान एक महिला मंत्री बहुत उत्साहित थीं, ऐसा लग रहा था, मानो वो सड़कों की गंदगी अपने लंबे बालों से साफ करेंगी. (Aaj Tak)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें