NDA के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा समर्थने किये जाने को लेकर लालू प्रसाद यादव ने कहा कि वे अब आरएसएस की राह पर चल दिए है.

उन्होंने कहा कि ‘दो दो बैठक में शरीक भी हुए, मैं भी गया था एक बैठक में तो मैं भी गया था. मैंने नीतीश कुमार जी से पूछा था कि क्‍या करना है, क्‍या निर्णय है? तो नीतीश जी ने कहा था कि जो सभी लोग कहेंगे उसको मानना है, विपक्ष को एक साथ चलना है. अब एकाएक क्‍या खिचड़ी पकी कि नीतीश जी की पार्टी जेडीयू ने नाम बोल दिया बीजेपी के उम्‍मीदवार का, आरएसएस के उम्‍मीदवार का नाम ले लिया. जरूर नीतीश जी से बात करेंगे और अपील करेंगे कि इस पर फिर से विचार की, ऐतिहासिक गलती तो आपसे हो गई है.’

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों को भी देश रहने का है मौलिक अधिकार: ओवैसी

गुरुवार को लालू ने कहा था, ‘उनके सहयोगी जदयू द्वारा एनडीए के राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी रामनाथ कोविंद का समर्थन करने का निर्णय ‘एक गलत निर्णय’ है और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उनका समर्थन कर ‘ऐतिहासिक भूल’ कर रहे हैं.’

वहीँ नीतीश कुमार ने कहा कि जदयू ने जो भी फैसला लिया है, बहुत सोच समझकर लिया है और उसकी जानकारी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राजद प्रमुख लालू प्रसाद को दे दी गई थी.

और पढ़े -   सहारनपुर की आड़ में थी बीजेपी की और से मेरी हत्या कराने की साजिश: मायावती

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE