kejriwal against bjp

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में केंद्र सरकार पर फोन टापिंग का गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि ‘उन्होंने दो जजों को बात करते सुना है कि फोन टैपिंग हो रही है. अगर ऐसा है तो यह न्यायपालिका पर सबसे बड़ा हमला है. मैंने जजों से कहा ऐसा नहीं होगा.’

सोमवार को दिल्ली हाई कोर्ट की गोल्डन जुबली के अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी सहित चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद भी मौजूद थे. इस दौरान केजरीवाल ने कहा, ‘मैंने जब दो जजों को आपस में बात करते हुए कि उनके फोन टैप हो रहे हैं तो मैंने उनसे कहा कि अरे नहीं, जजों के फोन कभी टैप नहीं हो सकते. हालांकि यदि यह सच है तो यह न्यायपालिका पर सबसे बड़ा अटैक है.’

और पढ़े -   मुस्लिम समाज खुद तीन तलाक को खत्म कर दे अन्यथा सरकार तो कानून लाएगी - नायडू

हालांकि केजरीवाल के इस आरियो का खंडन करते हुए कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने तुरंत कहा कि मैं इस तरह के किसी भी कथन का पूरी तरह से खंडन करता हूं और मैं पूरी प्रतिबद्धता से कहता हूं किसी भी जज के फोन को टैप नहीं किया जा रहा है.

वहीं चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर ने कहा ने केजरीवाल की तारीफ करते हुए कहा कि केजरीवाल ने जिस तरह कोर्ट को आर्थिक मदद देने की बात कही है, उससे मुजे बेहद खुशी मिली है.

और पढ़े -   लालू का बीजेपी-आरएसएस पर वार कहा, खींच कर दिल्ली की कुर्सी से नीचे ले आऊंगा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE