नई दिल्ली: दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग ने सोमवार को कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पास संविधान की व्याख्या करने की गुंजाइश है। उन्होंने केजरीवाल के साथ अपने तल्ख संबंधों पर पहली बार प्रतिक्रिया जाहिर की।

व्यापक मुद्दे पर बात करते हुए जंग ने कहा कि हर महीने सम-विषम योजना लागू करना बहुत मुश्किल होगा, क्योंकि यह मेट्रो रेल प्रणाली और निगरानी तंत्र पर अत्यधिक दबाव डालेगा।

और पढ़े -   दारू पीकर अय्याशी करने वाले अजान पर आवाज उठा रहे: अबू आजमी

najeeb-jung_650x488_51442976653एक इंटरव्यू के दौरान खुद को कुत्ता कहे जाने के बारे में पूछे जाने पर जंग ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री के लिए इस तरह की भाषा अनुचित है।

राष्ट्र विरोधी नारे लगाने वालों से बातचीत की जाए
उपराज्यपाल नजीब जंग ने कहा कि उन्होंने जेएनयू परिसर में कथित तौर पर राष्ट्र विरोधी नारेबाजी को लेकर छात्रों के खिलाफ कार्रवाई का समर्थन नहीं किया है। साथ ही उनका सुझाव है कि इसके बजाय उनसे बातचीत की जाए।

और पढ़े -   मायावती का इस्तीफा मंजूर, राज्यसभा में बीजेपी पर बोलने नही देने का लगाया था आरोप

उन्होंने यह भी कहा कि पुलिस को आगजनी की स्थिति में बुलाया जाए, न कि नारेबाजी होने पर। जंग ने इंडिया टुडे टीवी चैनल से कहा कि वह राष्ट्र विरोध को बढ़ावा नहीं देंगे। वह महज नारेबाजी को लेकर छात्रों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करेंगे।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE