नई दिल्‍ली। जेएनयू के अध्‍यक्ष कन्‍हैया कुमार के आजादी वाले नारे से दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल काफी हद तक प्रभावित हुए हैं। उन्‍होंने भी मांग की है कि केंद्र सरकार के हस्‍तक्षेप और दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल नजीब जंग के हस्‍तक्षेप से उनकी सरकार को काम करने की उन्‍हें आजादी‍ मिले।

कन्‍हैया कुमार और जेएनयू के प्रदर्शन के पक्ष में केजरीवाल लगातार अपनी आवाज बुलंद करते रहे हैं। उन्‍होंने शुक्रवार को फैसले लेने के लिए आजादी और राजनीतिक अहंकार से आजादी की बात कही।

और पढ़े -   गोरखपुर हादसे पर बोले अमित शाह: देश में पहली बार ऐसा नहीं हुआ, जन्माष्टमी का त्योहार मनाएंगे

उन्‍होंने हिंदी में ट्वीट कर कहा- हम क्‍या मांगते हैं? आजादी।

एलजी के हस्‍तक्षेप से- आजादी।

केंद्र के हस्‍तक्षेप से – आजादी।

जनता को निर्णय लेने की – आजादी।

राजनैतिक अहंकार से – आजादी।

गौरतलब है कि कन्‍हैया के भाषण के लिए गैर भाजपाई नेता उसकी जमकर तारीफ कर रहे हैं। जेल से अंतरिम जमानत पर रिहा होने के बाद उसने आरएसएस, भाजपा और नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा था। (Naidunia)

और पढ़े -   ओवैसी का कल्बे सादिक को जवाब - मस्जिद अल्लाह का घर, मौलाना कहने पर नहीं दे सकते

English Summary

Chief Minister Arvind Kejriwal  is impressed to a great extent by the sologan of “azadi” chanted by the jnu students union president Kanhyia kumar.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE