lal

जम्मू कश्मीर सरकार में भाजपा कोटे से मंत्री बने चौधरी लाल सिंह पर कश्मीर के मुस्लिम किसानों को धमकाने का आरोप लगा हैं. मंत्री के खिलाफ इलाके के हिंदू और मुसलमान ने मिलकर शिकायत दर्ज करवाई है। शिकायत में कहा गया कि चौधरी लाल सिंह ने 1947 में हुए मुस्लिम विरोधी दंगे का नाम लेकर किसानों को धमकाया हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार लोगों ने कहा है कि जब वे लाल सिंह के पास अपने बाग से जुड़े काम के लिए गए थे तो लाल सिंह ने उन लोगों के लिए अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए कहा कि वे लोग 1947 में इलाके में मारे गए मुसलमान लोगों के बारे में भूल गए हैं।

और पढ़े -   वेंकैया नायडू ने कहा - हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा, थरूर बोले - जबरदस्ती थोपेंगे

अंग्रेजी अख़बार इंडियन एक्सप्रेस से हुई बातचीत में लालसिंह ने कहा, ‘उस दिन वे लोग मेरे पास आए थे। वे चाहते थे कि मैं उन्हें जंगल में से पेड़ काटकर उनके ट्रक भरने की इजाजत दे दूं। मैंने मना कर दिया और कहा कि इतने पेड़ कटने की वजह से ही जम्मू का तापमान 47 डिग्री पहुंच गया है। यह बर्दाशत नहीं किया जाएगा।’

और पढ़े -   क़तर मामले पर सुषमा ने कहा - भारतीयों की सुरक्षा के लिए किए जाएंगे हरसंभव प्रयास

पुलिस ने बताया है कि शिकायत दर्ज करवाने वालों ने शिकायत में सिर्फ अपना नाम लिखा था, पता नहीं। उनमें से कुछ लोगों ने नाम राजपाल शर्मा, निजाम मलिक, युसफ अली हैं। उन लोगों ने अपना पता नहीं लिखवाया था जिस वजह से पुलिस अब उनको बयान दर्ज करने के लिए भी ढूंढ नहीं पा रही। ऐसे में इस मामले में नई मुश्किल यह है कि जिन लोगों ने शिकायत दर्ज करवाई वे अब गायब हो गए हैं।

और पढ़े -   कोविंद को राष्ट्रपति बनाने के लिए दलित प्रेम नहीं बल्कि आरएसएस से जुड़ा होना है: मायावती

इस मुद्दे पर विपक्ष और अलगाववादियों ने सरकार और सहयोगी दल बीजेपी को घेरना शुरू कर दिया है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE